ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। वन प्लस मोबाईल शोरूम से लाखों की कीमत के मोबाईल फोन चोरी करने वाले घोड़ासहन गिरोह के एक और सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कोतवाली हल्द्वानी पुलिस ने चोरी हुआ मोबाईल भी बरामद किया है। जानकारी के अनुसार 9 सितम्बर को नैनीताल रोड चर्च कम्पाउण्ड के पास स्थित वन प्लस मोबाईल शोरूम में अज्ञात चोरों द्वारा नकबजनी किये जाने की सूचना प्राप्त हुई सूचना प्राप्त होते ही पुलिस द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण किया गया एवं इस संबंध में दुकान मालिक श्री विष्णु खण्डेलवाल पुत्र आनन्द प्रकाश खण्डेलवाल निवासी ट्रस प्रकाश एकले बाईपास रोड आगरा हाल चर्च कम्पाऊण्ड नैनीताल रोड की लिखित तहरीर बाबत अज्ञात चोरों द्वारा वादी के शोरूम का शटर ऊपर उठाकर और दुकान के अन्दर रखी अलमारी तोड़कर अल्मारी में रखे लगभग 163 मोबाईल ONE PULS एवं गल्ले में रखे लगभग डेढ लाख रूपये नकदी चोरी करने के संबंध में *कोतवाली हल्द्वानी में एफआईआर न0 484/2022 धारा 380/457 भदावि बनाम अज्ञात पंजीकृत कर श्री हरेन्द्र चौधरी प्रभारी निरीक्षक हल्द्वानी के द्वारा विवेचना तत्काल उ0नि0 प्रकाश पोखरियाल चौकी प्रभारी भोटिया पड़ाव के सुपुर्द की गयी थी जिस क्रम में पुलिस टीम द्वारा दि0 18 सितम्बर को घटना में लिप्त घोड़ासहन गैंग के दो सदस्यों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया था जिनके कब्जे से मोबाईल दुकान से चोरी किये गये लगभग 2 लाख 70 हजार के 06 मोबाईल फोन बरामद किये गये थे ।

पुलिस द्वारा की गयी कार्रवाई

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल पंकज भट्ट द्वारा शेष अभियुक्तों गिरफ्तारी करने एवं चोरी की माल बरामद करने हेतु अधीनस्थ अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। अपर पुलिस अधीक्षक हल्द्वानी हरबन्स सिंह, क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी भूपेन्द्र सिंह धौनी  के पर्यवेक्षण में, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली हल्द्वानी हरेन्द्र चौधरी के नेतृत्व में पुलिस व एसओजी की संयुक्त 02 टीमों को शेष अभियुक्तों एवं माल बरामद करने हेतु उधमसिंह नगर , काशीपुर , मुरादाबाद , दिल्ली , पीलीभीत, गोरखपुर, बिहार राज्य में टीमों द्वारा लगातार दबिश दी जा रही थी ।

शेष अभियुक्तगण जीतू उर्फ चूना, मोबीन, नईमुद्दीन, राजन, अर्जुन, रोशन, विक्रम, रियाजुद्दीन, प्रमोद पासवान की लगातार तलाश* की जा रही थी एवं घटना में लिप्त नईम देवान व विक्रम को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है जो वर्तमान में न्यायिक हिरासत जेल में हैं ।

तथा उक्त गैंग के सदस्य अपने गिरफ्तार साथियों की जमानत हेतु वकील की तलाश में फिर से हल्द्वानी आने की सूचना मुखबिर द्वारा प्राप्त हुई  जिसके आधार पर पुलिस टीम द्वारा मुखबिर की सूचना पर शहीद पार्क जजी कोर्ट के सामने से घटना में लिप्त अभियुक्त प्रमोद पासवान पुत्र राजेन्द्र पासवान निवासी ग्राम विरता चौक थाना व पोस्ट घोड़ासहन जिला मोतीहारी बिहार को गिरफ्तार किया गया अभि0 के कब्जे से उक्त चोरी की घटना में चोरी किया गया एक ONE PLUS  कम्पनी का मोबाईल फोन जिसकी कीमत 44 हजार रूपये लगभग की है जो बरामद किया गया है ।

गिरोह की कार्यप्रणाली

1. घोड़ासहन गिरोह अधिकतर मोबाईल शोरूम एवं महंगी घडियों, शर्राफा व महंगे इलेक्ट्रानिक उपकरण के शोरूम को ही अपना निशाना बनाते हैं

2. घोड़ासहन गिरोह के सदस्यों द्वारा चादर फैलाकर उसकी आड़ इस तरह खड़े हो जाते हैं कि वहाँ से कोई गुजरे तो पर्दे की वजह से उसका ध्यान शटर पर न जाये एवं शोरूम के शटर को उठा लेते हैं व ऐसे शोरूम को चिन्हित करते हैं जिनके शटर में सेंट्रल लॉक न हो, इसके उपरान्त गिरोह के 1-2 सदस्य शोरूम के अन्दर चले जाते हैं बांकी आसपास निगरानी करते हैं चोरी का काम पूरा होने पर बाहर खड़े सदस्य फिर से चादर फैलाकर शोरूम के अन्दर से अपने साथियों को निकालकर तुरन्त शहर छोड़ देते हैं ।    

3. गिरोह के कुछ सदस्यों के द्वारा 2-3 दिन पहले शोरूमों की रैकी की जाती है । 

4. चोरी के बाद माल लेकर  गैंग दिल्ली जाते हैं जहां से इनका एक सदस्य माल लेकर नेपाल जाकर माल बेच देते हैं फिर रूपये आपस में बांट लेते हैं । 

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम 

1. अभि0 प्रमोद पासवान पुत्र राजेन्द्र पासवान निवासी ग्राम विरता चौक थाना व पोस्ट घोड़ासहन जिला मोतीहारी बिहार।

सफलता पाने वाली पुलिस टीम में चौकी प्रभारी भोटिया पड़ाव प्रकाश पोखरियाल, एसओजी प्रभारी नैनीताल राजवीर सिंह नेगी, चौकी प्रभारी मंगलपडाव जगदीप नेगी, उ0नि0 नीतू सिंह  – कोतवाली हल्द्वानी, कांस्टेबल  अरूण राठौर – हल्द्वानी, त्रिलोक सिंह – एसओजी, कुन्दन सिंह  – एसओजी, अशोक रावत – एसओजी, संजीत राणा – हल्द्वानी, प्रकाश बड़ाल- हल्द्वानी, म0कानि0 लीला रावत – कोतवाली हल्द्वानी थे। 

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments