ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी।  जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में फरियादियों की जनता दरबार लगाकर जन समस्याएं सुनी। जनता दरबार में फरियादियों द्वारा मुख्यतयाः पेयजल, सडक, पेंशन, भूमि पर कब्जा, अतिक्रमण,खनन पट्टे आदि की समस्या से सम्बन्धित 59 शिकायतें दर्ज हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने दूरभाष से वार्ता कर एवं मौके पर उपस्थित संबंधित अधिकारियों को निर्धारित समयावधि में समस्याओं का निस्तारित करते हुए अवगत कराने के भी निर्देश दिए। 

ग्राम प्रधान संगठन हल्द्वानी ने बताया कि कराया कि केन्द्र सरकार की 01 जनवरी 2023 से नई गाइडलाइन के अनुसार मनरेगा  योजना में  संचालित करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है मनरेगा योजना में श्रमिकों की आनलाइन उपस्थिति के कारण नेटवर्क न होने से कार्य में काफी परेशानी हो रही है उन्होंने आनलाइन उपस्थिति को समाप्त करने का अनुरोध किया। जिस जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को जॉच करने निर्देश दिये। गंगा दत्त तिवारी निवासी रौशिला ने बताया कि मॉ शीतला टैªडर्स के नाम से खनन पट्टे के लिए समस्त काश्तकारों से अधिग्र्रहण की थी लेकिन काश्स्कारों को वर्ष 2019 से अभी तक की धनराशि नही दी गई है। जिस पर जिलाधिकारी ने खनन अधिकारी को जॉच कर आख्या देने के निर्देश दिये। 

सुरजीत कुमार निवासी दमुवाढूंगा ने बताया कि दमुवाढूगा वार्ड 35 नगर की रोड़ काफी वर्षो से खराब है इस सड़क से स्कूली बच्चों के साथ-साथ काफी वाहनों का आवागमन होता है सड़क की मरम्मत न होने से आम जनजीवन को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त को निरीक्षण कर सड़क मरम्मत कराने के निर्देश दिये। देवेन्द्र सिंह निवासी नथुवाखान ने बताया कि उनकी खाता संख्या 63 में जो पैत्रिक जमीन है कुछ लोगो द्वारा अतिक्रमण किया जा रहा है उन्होंने अतिक्रमण पर रोक लगाने का अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी धारी को जॉच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

जनता दरबार में अधिकांश समस्यायें घरेलू हिंसा, पेंशन, प्रधानमंत्री आवास, भूमि अतिक्रमण पेयजल, सड़क आदि की समस्या आयी जिसका अधिकांश समस्याओं का जनता दरबार में मौक ही पर निस्तारण किया गया। शेष समस्या हेतु अधिकारियों को समयावधि में पूर्ण करने के निर्देश दिए। 

 जनता दरबार में अपर जिलाधिकारी अशोक कुमार जोशी, उपजिलाधिकारी मनीष कुमार, प्रोबेशन अधिकारी व्योमा जैन, अधिशासी अभियन्ता अशोक चौधरी आदि मौजूद थे।

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments