ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर। मंगलवार की सुबह ट्राजिट कैम्प क्षैत्र में आजाद नगर वार्ड नं0 4 रूद्रपुर में कबाड़ी के गोदाम में रखे गैस सिलेंडर में से गैस का रिसाव हो गया जिसकी चपेट में आकर आस-पास के लोग बेहोश होने लगे। घटना की सूचना प्राप्त होने पर जिलाधिकारी के निर्देशानुसार इंसिडेंट रिस्पॉन्स टीम को एक्टिवेट किया गया और  पुलिस, प्रशासन, आपदा प्रबन्धन, फायर ब्रिगेड, एस0डी0आर0एफ0, एन0डी0आर0एफ0 व मेडिकल की टीमों द्वारा घटना स्थल पर पहुंचकर राहत बचाव कार्य शुरू किये गये।

जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त तथा एसएसपी मन्जूनाथ टीसी ने चिकित्सालय पहुॅचकर प्रभावित व्यक्तियों को दिये जा रहे उपचार व स्थिति की जानकारी ली तथा प्रभावित व्यक्तियों का हाल-चाल जाना।

गैस के प्रभाव में आए 34 व्यक्तियों को रेस्क्यू कर जिला चिकित्सालय में भरती कराया गया। गैस के प्रभाव में आये व्यक्तियों को श्वास लेने में परेशानी के कारण सभी व्यक्तियों को आॅक्सीजन सपोर्ट सिस्टम से आॅक्सीजन देने के साथ ही डाॅक्टर्स व पैरामेडीकल स्टाफ द्वारा पूरी तत्परता से कार्य किया गया। गैस के प्रभाव में आने के कारण उप जिलाधिकारी कौस्तुभ मिश्रा, सीओ आशीष भारद्वाज सहित 9 व्यक्तियों को आईसीयू में भर्ती किया गया था, जबकि 25 व्यक्तियों को उनकी स्थिति के आधार पर सामान्य वार्ड में भर्ती किया गया था। वर्तमान में सभी व्यक्तियों की स्थिति सामान्य है। 

जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त तथा एसएसपी मंजूनाथ टीसी तथा डिप्टी कमाण्डेण्ट रवि बधानी की देख-रेख में रेस्क्यूवर वसीम अली, उमेश सिंह नेगी ने प्रशासन के सहयोग से सिलैण्डर को शान्तिपूर्ण तरीके से डिस्पोज़ आॅफ किया। 

जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने पुलिस विभाग के अधिकारियों को सम्बन्धित कबाड़ी के लिखाफ नियमानुसार मुकदमा दर्ज करने के निर्देश पुलिस विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने कबाड़े की दुकान में गैस रिसाव के कारण मृत चूहों को जाॅच हेतु आईवीआरआई बरेली भेजने के निर्देश चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को दिये। 

जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने जनपद के रिहायसी इलाकों में स्थित कबाड़ के गौदाम एवं दुकानों को रिहायसी इलाकों से दूर हटाकर उन्हें अन्यंत्रित शिफ्ट कराने के निर्देश पुलिस तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों को दियें, ताकि किसी तरह की कोई अनहोनी इन कबाड़ की दुकानों और गोदामों के चलते न हो। क्योंकि कई बार कबाड़ के रूप में इन गोदामों में ज्वलनशील और विस्फोटक यंत्र भी आ जाते हैं जिस कारण कभी भी बड़ा जानमाल का खतरा शहर को हो सकता है।

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments