ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। 1984 में सियाचिन में आपरेशन मेघदूत के दौरान लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बाेला शहीद हो गये थे। 38 वर्ष के पश्चात शहीद चन्द्रशेखर का पार्थिव शरीर बुधवार को उनके आवास पहुँचने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी एवं जनपद प्रभारी मंत्री रेखा आर्या ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये। बुधवार को जैसे ही शहीद चन्द्रशेखर हर्बाेला का पार्थिव शरीर डहरिया स्थित उनके आवास पर पहुँचा। पूरा क्षेत्र देश भक्ति नारों से गुंजायमान हो गया, पार्थिव शरीर को घर के आंगन में पहुँचता देख शहीद की वीरांगना शान्ति देवी, पुत्री कविता, बबीता व अन्य परिजन शोक में गमगीन हो गये। इस दौरान जब तक सूरज चांद रहेगा शहीद चन्द्रशेखर तेरा नाम रहेगा के नारों से पूरा क्षेत्र गुंजायमान हो गया। 

इसके पश्चात शहीद चन्द्रशेखर हर्बाेला के पार्थिव शरीर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी एवं महिला सशक्तिकरण मंत्री रेखा आर्या सहित परिजनों, सैन्य अधिकारियों व प्रशासनिक अधिकारियों ने पुष्प चक्र अर्पित किये। 

इस दौरान मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा शहीद चन्द्रशेखर के बलिदान को हमेशा याद रखा जायेगा। उन्होेंने कहा देश के लिए बलिदान देने वाले उत्तराखण्ड के सैनिकों के लिए सैन्यधाम की स्थापना की जा रही है। शहीद चन्द्रशेखर की स्मृतियों को भी सैन्यधाम में संजोया जायेगा। 

सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि शहीद चन्द्रशेखर की शहादत को हमेशा याद रखा जायेगा। उन्होेंने कहा कि देश की सीमाओं की रक्षा तथा देश की संप्रभुता एवं अखण्डता बनाये रखने के लिए सर्वाेच्च बलिदान देने वाले वीर सैनिक सपूतों, तथा उनके परिजनों के मान-सम्मान एवं कल्याणार्थ के लिए सरकार सदैव तत्पर है। 

पुष्प चक्र अर्पित करने के पश्चात शहीद चन्द्रशेखर का पार्थिव शरीर चित्रशिला घाट रानीबाग के लिए रवाना हुआ, जहां शहीद को पूरे राजकीय सम्मान व आर्मी बैण्ड की धुन के साथ भावभीनी विदाई दी गई। चित्रशिला घाट पर सैकडों की संख्या में लोगों द्वारा नम आंखों से शहीद को विदाई दी गई।  इस अवसर पर मेयर डा. जोगेन्दर पाल सिंह रौतेला, पूर्व मंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य विधायक राम सिंह कैड़ा, डा. मोहन बिष्ट,सुमित हृदयेश,  जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, डा. अनिल कपूर डब्बू, चतुर सिह बोरा, सुरेश तिवारी, प्रकाश हर्बाेला, भूप्पी क्वीरा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल, महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल, महेश शर्मा के साथ ही आयुक्त कुमाऊं दीपक रावत, जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल, एसएसपी पंकज भट्ट, मुख्य विकास अधिकारी डा0 संदीप तिवारी,सिटी मजिस्टेªेट ऋचा सिंह, उपजिलाधिकारी मनीष कुमार के साथ ही मेजर जनरल अनिल चन्देल, कमाण्डैंट केआरसी बिग्रेडियर आईएस सनियाल, बिग्रेडियर विश्वजीत सिह, सीओ 19 कुमाऊं कर्नल बी.एस नेगी, कर्नल विक्रमजीत सिंह, स्टेशन कमाण्डेंट कर्नल अमित मोहन, कर्नल जीवन रावत, कर्नल देवेन्द्र नेगी के साथ ही सैकड़ों की संख्या में पूर्व सैनिक, जनप्रतिनिधि, क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।    

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments