ख़बर शेयर करें -

कालाढूंगी। बुधवार को कालाढूंगी थाना क्षेत्रांतर्गत एक रिसॉर्ट में हुए सनसनीखेज हत्याकांड का पुलिस ने महज 24 घंटे में खुलासा कर दिया। साथ ही आरोपी अमन सैनी, पुत्र रामचन्द्र सैनी, निवासी जोगीपुरा रामनगर को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार बुध वार 3 अगस्त को थाना कालाढूंगी में सूचना प्राप्त हुई कि बेलपड़ाव क्षेत्र अंतर्गत बक्सेन्ट  रिसोर्ट पवलगढ़ बैलपड़ाव में गिरीश चन्द्र त्रिपाठी, पुत्र दिनेश चन्द्र त्रिपाठी उम्र-54 वर्ष निवासी पवलगढ़ बैलपड़ाव की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई है। 

सूचना पर एसपी सिटी हल्द्वानी हरबंस सिंह एवं क्षेत्राधिकारी रामनगर सहित थानाध्यक्ष कालाढूंगी राजवीर सिंह नेगी व चौकी प्रभारी बैलपडाव विरेंद्र बिष्ट के अलावा अधिनस्थ पुलिस बल मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा किया गया। सनसनीखेज हत्या की वारदात के अनावरण के लिए एसएसपी नैनीताल पंकज भट्ट द्वारा अधीनस्थ पुलिस अधिकारी गणों को हत्याकांड के त्वरित अनावरण हेतु अधीनस्थ पुलिस बल को टीम गठित करने हेतु निर्देशित किया गया।

गठित पुलिस टीम को उक्त हत्याकांड के संबंध में ज्ञात हुआ कि अभियुक्त को होटल कर्मी राजेन्द्र डोबाल, सुरेश सनवाल, पुष्कर धामी व मृतक गिरिश चन्द्र त्रिपाठी द्वारा छोटी छोटी बातो को लेकर परेशान करने व लड़ाई झगड़ा करते हुए मारने को आने सम्बन्धी बातो से परेशान करते थे तथा 2 अगस्त को रिसोर्ट परिसर में राजेन्द्र डोभाल एवं मृतक गिरीश चन्द्र त्रिपाठी द्वारा मोबाइल मांगने के दौरान मोबाइल रिचार्ज को लेकर उक्त दोनो द्वारा स्वयं से पुनः लड़ाई- झगड़ा कर मारने को आने की बातो से क्षुब्ध होकर दोनो व्यक्तियो को जान से मारने का इरादा बनाया गया। 

चूंकि राजेन्द्र डोबाल के दुबला-पतला होने के फलस्वरुप पहले मृतक गिरीश चन्द्र त्रिपाठी को मारने का मन बनाकर मृतक गिरीश चंद्र त्रिपाठी को गार्ड रुम से सोने के बहाने ड्राईवर रुम ले जाकर, मृतक के लिए बीडी लाने हेतु बाहर जाना कहकर बक्सेन्ट रिसोर्ट के किचन में जाकर एक स्टील का एवं एक लोहे का चाकू पेट में छुपाकर लाया गया व बीड़ी जलाने के बहाने मृतक के पास गया इसके पश्चात दोनो चाकूओ को तकिये के नीचे छुपाकर रख लिए। मृतक गिरीश चंद्र त्रिपाठी के सोने के 5 मिनट के पश्चात अभियुक्त द्वारा अपने बायें हाथ में तकिया व दाहिने हाथ में चाकू लेकर बाएं हाथ में रखे तकिये से मृतक का मुंह दबाकर दाहिने तरफ करवट में लेटे मृतक के पेट व पीठ पर लगातार कई वार किए गए जिससे मृतक गिरीश चंद त्रिपाठी की मौके पर ही मृत्यु हो गई। सनसनीखेज हत्याकांड का अनावरण  एसपी सिटी हल्द्वानी हरबंस सिंह द्वारा प्रेस वार्ता के माध्यम से किया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस टीम के  उत्साहवर्धन हेतु 5000/- रुपये नकद धनराशि पारितोषिक हेतु घोषणा की गई है।

सफलता पाने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष कालाढूंगी राजवीर सिंह नेगी, चौकी प्रभारी बैलपड़ाव बीरेन्द्र सिंह बिष्ट, चौकी प्रभारी कोटाबाग विजय कुमार, उप निरीक्षक गगनदीप सिंह, कांस्टेबल गगनदीप सिंह, नसीम अहमद, वीरेन्द्र रौतेला, रविन्द्र सिंह, लेखराज सिंह, मिथुन कुमार, जसवीर सिंह, अमरेन्द्र सिंह थे। 

 

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments