ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। प्राध्यापक डॉ एसएन सिद्ध को रिलीव करने की मांग को लेकर  छात्रों ने एमबीपीजी कॉलेज गेट के बाहर पूर्व प्रभारी प्राचार्य बीआर पंत का पुतला फूंका। बाद मे उन्होंने  प्राचार्य को एक ज्ञापन सौंपा। छात्रों ने कहा कि शासन द्वारा प्राध्यापक डॉ. एसएन सिद्ध का लगभग 1 हफ्ते पहले अग्रिम आदेश तक स्थानांतरण गणाई गंगोली डिग्री कॉलेज में कराए जाने का आदेश आ गया था। उसके बाद भी 2 दिन तक कॉलेज प्रशासन मौन बैठा रहा। जिसके बाद छात्रों के द्वारा ज्ञापन भी सौंपा गया लेकिन उसके बदले उन्हें सिर्फ हवाला ही दिया गया। जिसमे बताया गया कि नाम गलत है। छात्रों ने कहा कि उच्च शिक्षा निदेशालय से एक पत्र आया। इसमें कहा गया कि  डॉ एसएन सिद्ध को 1 सप्ताह के भीतर ही रिलीव कर दिया जाए लेकिन इसके बावजूद भी निर्देश मिलने के बाद कॉलेज प्रशासन द्वारा चुप्पी साधी गई। उन्होंने कहा कि कहीं ना कहीं पूर्व प्राचार्य बी आर पन्त का संरक्षण प्राप्त हो रहा है। छात्रों ने कहा कि जल्द से जल्द उन्हे रिलीव कर दिया जाए नहीं तो छात्र उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। 

बाद मे  प्राचार्य ने डॉ सिद्ध को रिलीव कर दिया। इस दौरान छात्र संघ अध्यक्ष प्रत्याक्षी सूरज भट, निहित नेगी, चंदू जोशी, मुकेश कुलोरा, कपिल मेहता, हिमांशु पडालिया, करन बिष्ट आदि मौजूद थे । 

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments