ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। प्रगतिशील महिला एकता केंद्र का तीसरा सम्मेलन 24-25 सितंबर (शनिवार, रविवार) को सत्यनारायण धर्मशाला, कालाढुंगी रोड, हल्द्वानी नैनीताल में आयोजित होने जा रहा है। 

सम्मेलन से पूर्व हुए प्रेस वार्ता में अध्यक्ष शीला शर्मा ने कहा कि दुनिया के स्तर पर महिलाओं की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। महिलाओं के संघर्ष द्वारा जो अधिकार हमने हासिल किए थे वह भी हमसे छीने जा रहे हैं। 

संगठन की महासचिव रजनी जोशी ने कहा कि एक तरफ जहां महिलाओं का शोषण-उत्पीड़न बढ़ रहा है वहीं दूसरी तरफ महिलाएं इस शोषण-उत्पीड़न के खिलाफ दुनिया के स्तर पर संघर्ष कर रही हैं। हम प्रगतिशील महिला एकता केंद्र मजदूर मेहनतकश महिलाओं को उन संघर्षों के साथ जोड़ने का प्रयास करेंगे व महिला मुक्ति के लिए महिलाओं को गोल-बंद कर संघर्ष की नई धार तेज करेंगे।

जोशी ने आगे कहा कि नई आर्थिक नीतियों के चलते व कोरोना महामारी से दुनिया सहित देश की अर्थव्यवस्था कमजोर हुई है। जिसके चलते महिला हिंसा, अपराध, मंहगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार बढ़ा है। ऐसे में जरूरत बनती है कि मजदूर-किसान-छात्र-महिलाओं को एकजुट होकर संघर्ष करना होगा ताकि हम एक बेहतर समाज का निर्माण कर सकें।

सम्मेलन की प्रक्रिया के बारे में बात करते हुए रजनी ने बताया कि दो दिन चलने वाले इस सम्मेलन में अंतरराष्ट्रीय तथा राष्ट्रीय स्तर महिलाओं की स्थिति पर चर्चा की जाएगी। सम्मेलन का समापन एक खुले सत्र और उसके बाद जूलूस के साथ किया जाएगा। खुले सत्र में विभिन्न जनसंगठनों, ट्रेड यूनियनों के प्रतिनिधियों तथा सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा सम्मेलन के प्रतिनिधियों को संबोधित किया जाएगा। सम्मेलन में तीन राज्यों से लगभग 150 प्रतिनिधि भागीदारी करेंगे।

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments