ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। इंडिगो एयरलाइंस में नौकरी दिलाने के नाम पर साइबर ठगी करने वाले मिंटू गैंग के 3 साईबर ठगों को चंपावत पुलिस ने आगरा उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है। मामले के अनुसार फरवरी 2022 में जनपद चम्पावत के थाना बनबसा क्षेत्रअंतर्गत वादिनी ज्योति चंद्र पत्नी त्रिभुवन चंद्र पोस्ट चंदनी, थाना बनबसा द्वारा बताया गया कि उसके पति द्वारा इंडिगो एयरलाइन में नौकरी का एडवर्टाइजमेंट देखर उसमे अपना बायोडाटा भेजा गया। जिसके उपरांत उन्हें तीन अलग-अलग व्यक्तियों द्वारा फोन कर अपने आपको इंडिगो एयरलाइंस में अलग-अलग पदों में अधिकारी बताकर नौकरी दिलाने के नाम उनसे 2.55 लाख रुपये की धोखाधड़ी की गई।

इस संबंध में थाना बनबसा में मुकदमा F.I.R NO- 52/22 अंतर्गत धारा 420 आईपीसी*  पंजीकृत कर अभियोग के अनावरण हेतु म0उ0नि0 मंदाकिनी राणा थाना बनबसा के नेतृत्व  में पुलिस टीम का गठन  किया गय

पुलिस टीम द्वारा अभियोग के अनावरण हेतु पुलिस कार्यालय में स्थित साइबर/सर्विलांस सैल एवं अनावरण हेतु गठित पुलिस टीम द्वारा उक्त घटना के क्रम में फोन पे, गूगल पे, पेटीएम व ऑनलाइन बैको की डिलेट के माध्यम से साइबर ठग की पहचान की गयी तो अज्ञात साईबर ठग आगरा उत्तर प्रदेश छेत्र में होने प्रकाश में आए।

साइबर ठगों की गिरफ्तारी हेतु  म0उ0नि0 मंदाकिनी राणा के नेतृत्व मे पुलिस टीम आगरा, उत्तर प्रदेश भेजी गयी। पुलिस टीम द्वारा आगरा, उत्तर प्रदेश क्षेत्र में पहुंचकर सुरागरसी-पतारसी व मोबाइल सर्विलांस की मदद से 3 साइबर ठगों को थाना मलपुरा, आगरा उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया। 

तीनों साइबर ठग आगरा, उत्तर प्रदेश के स्थानीय मिंटू गैंग नाम से विख्यात गिरोह के सदस्य है। उक्त गैंग के सदस्यों द्वारा quikar ऐप में जाकर पैकेज खरीदा जाता हैं उन पैकेजो में उन्हें बेरोजगार युवकों के रिज्यूम  मिल जाते हैं । उन रिज्यूम के माध्यम से वे बेरोजगार युवकों को नौकरी दिलाने के नाम पर फोन कर ऑनलाइन ठगी करते हैं।  इनके खातों में लाखों रूपयो का लेनदेन होना पाया गया है। यह लोग अपने गैंग को आगरा, उत्तर प्रदेश तथा दिल्ली से संचालित करते हैं तथा छोटे छोटे गैंग बनाकर कई क्षेत्रों में फैलकर काम करते है।  पूछताछ में इनके द्वारा कई अन्य राज्यों के बेरोजगार युवकों के साथ भी ऑनलाइन ठगी किए जाने की बात बताई गई है जिसके संबंध में आवश्यक  कार्यवाही की जा रही हैं। पूछताछ में आरोपितों ने अपने नाम नाइमा पुत्री जहीर खान, निवासी मुल्लाह की प्यायू, थाना मलपुरा, जिला आगरा, उत्तर प्रदेश, हरेंद्र उर्फ मिंटू उर्फ रोहित पुत्र श्री राजवीर सिंह, निवासी नगला शीतल, थाना हाईवे, जिला मथुरा, उत्तर प्रदेश,  कृष्णा उर्फ करन पुत्र अशोक कुमार, निवासी मकान नंबर 3/152, रूई की मंडी, थाना शाहगंज, जिला आगरा, उत्तर प्रदेश बताया है। आरोपितों के पास से 4 मोबाइल, 2 सिम कार्ड, एक बैंक पास बुक, एक एटीएम तथा कई बेरोजगार युवाओं के अलग-अलग डॉक्यूमेंट बरामद किए है। सफलता पाने वाली पुलिस टीम में पुलिस उपाधीक्षक टनकपुर अभिनाश वर्मा, पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशंस अभिनव चौधरी, थानाध्यक्ष बनबसा लक्ष्मण सिंह, प्रभारी एसओजी मनीष खत्री, प्रभारी साईबर सैल सुरेन्द्र सिंह खड़ायत, उपनिरीक्षक नवल किशोर, म0उ0नि0 मंदाकिनी राणा आदि थे। 

More Stories

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments